Forex भारत

जानिए NFT दुनिया के क

जानिए NFT दुनिया के क
Did you know the world's #1stSMS was a simple "Merry Christmas"? Sent 30 years ago via the #Vodafone network, it's been transformed into a #NFT by @vodafone_de, so it can be auctioned to raise funds for our partners at #UNHCR, helping to build a better future for @refugees. pic.twitter.com/NDis7WEHxC — Vodafone Foundation (@VodafoneFdn) December 14, 2021

Cryptocurrency: एक क्रिप्टोकरंसी ने 24 घंटे में हजार रुपये को बना दिए 7.6 करोड़! जानिए आया कितना उछाल

Cryptocurrency: सिर्फ 24 घंटे में KokoSwap नाम की क्रिप्टोकरंसी में 76,000 प्रतिशत का उछाल देखने को मिला है. जानिए आखिर कितना हो गया है इसका मार्केट कैप? पढ़िए पूरी खबर.

By: abp news | Updated at : 12 Nov 2021 09:40 AM (IST)

Cryptocurrency: क्रिप्टोकरंसी की दुनिया के रिटर्न और अनोखे ट्रेंड हैरत में डाल देने वाले होते हैं. स्क्विड गेम वेब सीरीज पर आधारित टोकन स्क्विडगेम (Squid Game) में पिछले दिनों कुछ ऐसा ही ट्रेंड देखने को मिला था. हुआ ये कि किसी की कीमत कुछ ही दिनों में कई हजार गुना बढ़ गई और फिर एक ही दिन में धड़ाम से गिरकर जीरो हो गई. वहीं Shiba Inu जैसे मीमकॉइन में पैसे लगाने वाले निवेशक भी फटाफट करोड़पति बन गए. आलम ये है जानिए NFT दुनिया के क कि अब ये दुनिया की टॉप-10 क्रिप्टो में शामिल हो गई है.

इस उतार-चढ़ाव के दौरान क्रिप्टो की दुनिया में जबरदस्त हलचल मचाने वाला सबसे ताजा मामला कोकोस्वैप (KokoSwap) नाम के कॉइन का सामने आया है. कोकोस्वैप ने सिर्फ एक दिन में 76,000 पर्सेंट से ज्यादा का मुनाफा कमवाकर अपने निवेशकों को बड़ा अमीर कर दिया है. KokoSwap एक दिन पहले तक एक कम लोकप्रिय कॉइन था. शायद ही किसी ने इसका नाम सुना होगा.

इतने बढ़ें दाम

कॉइन मार्केट कैप की तरफ से बताए गए आंकड़ों के मुताबिक, सिर्फ 24 घंटे में KokoSwap की कीमत 0.009999 डॉलर से बढ़नी शुरू हुई और ये 7.63 डॉलर तक पहुंच गई. इस दौरान कॉइन ने बंपर 76,200 परसेंट का रिटर्न दिया. हालांकि बाद में इसकी कीमतों में थोड़ी गिरावट आई और यह दोपहर एक बजे के करीब 5.85 डॉलर के भाव पर ट्रेड कर रही थी. इस भारी उछाल के साथ KokoSwap का मार्केट कैप भी करीब 2 अरब डॉलर पहुंच गया है.

News Reels

इसलिए उछली कीमत

रिपोर्ट्स के मुताबिक KokoSwap ने खुद को बाइनेंस स्मार्ट चेन पर शिफ्ट किया है. पहले ये इथेरियम प्लेटफॉर्म पर थी. इसी की वजह से इसकी कीमतों में यह उछाल देखी गई है. बाइनेंस स्मार्ट चेन पर पलायन करने जानिए NFT दुनिया के क से बाइनेंस इकोसिस्टम में मौजूद गेमर्स की एक बड़ी संख्या तक इसकी पहुंच बढ़ी है.

NFT को लेकर हाल में लोगों की बढ़ी दिलचस्पी भी KokoSwap की कीमतों में तेजी की एक बड़ी वजह जानिए NFT दुनिया के क रही है. पिछले कुछ दिनों में सुपर स्टार अमिताभ बच्चन और सलमान खान सहित कई सितारे भी NFT क्रांति में शामिल हुए हैं. KokoSwap एक ऐसा ही डिसेंट्रलाइज्ड प्लेटफॉर्म है, जो यूजर्स को NFT गेमिंग और NFT ट्रेडिंग और क्रिप्टो ट्रेंडिंग की सुविधा एक ही जगह मुहैया कराता है. प्लेटफॉर्म की प्रमुख विशेषताएं NFT, एक्सचेंज, स्टेकिंग, फैंटसी और आर्केड गेमिंग है.

डिस्क्लेमर: (यहां मुहैया जानकारी सिर्फ़ सूचना हेतु दी जा रही है. यहां बताना ज़रूरी है की क्रिप्टोकरंसी में निवेश बाजार जोखिमों के अधीन है. निवेशक के तौर पर पैसा लगाने से पहले हमेशा एक्सपर्ट से सलाह लें. ABPLive.com की तरफ से किसी को भी पैसा लगाने की यहां कभी भी सलाह नहीं दी जाती है.)

ये भी पढ़ें

Published at : 12 Nov 2021 09:40 AM (IST) Tags: Money Cryptocurrency Investment Bitcoin trading KokoSwap हिंदी समाचार, ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें abp News पर। सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट एबीपी न्यूज़ पर पढ़ें बॉलीवुड, खेल जगत, कोरोना Vaccine से जुड़ी ख़बरें। For more related stories, follow: Business News in Hindi

What is NFT (Non Fungible Tokens)

हैलो Friends बीते कई दिनों से आप इंटरनेट और Social मीडिया पर NFT के बारे मे सुन या देख रहें होंगे और ये भी देख रहें होंगे कैसे सारे लोग NFT के जरिये लाखो करोड़ो रुपये कमा रहे है वो भी एक दिन मे या फिर यूं कहें एक झटके मे करोड़ो रुपए आपके जेब मे तो आइए जानते है

क्या है NFT और ये कैसे काम करता है ।

NFT मतलब Non Fungible Tokens एक ऐसा Assets जो किसी खास चीज को दर्शाता है यानि आप ऐसे समझ की एक ऐसा Token जो आपके पास किसी वस्तु के होने की परिभाषा बताता हो लेकिन ये Crypto नहीं है ।

NFT को हिन्दी मे बेबदल टोकन कहा जाता है

अगर आपके पास NFT है तो इसका अर्थ ये है की आपके पास एक ऐसी वस्तु है जिसका मालिकाना हक़ सिर्फ आपका है बिना आपके अनुमति के कोई इसे खरीद नहीं सकता है या फिर ले नहीं सकता है ।

अगर आपके पास कोई यूनिक वर्क आर्ट है तो उसकी एक कीमत होगी जिसके बदले आपको NFT यानि non fungible token दिया जाएगा । आप इस तरह समझे अगर आपके पास कोई तस्वीर या कोई औडियो विडियो है और अपने उसे Internet पर उपलोड कर दिया तो वो Published हो गया यानि कोई भी उसे देख और Download कर सकता है लेकिन अगर आप उसी फ़ाइल पर NFT ले कर रखे तो उस फ़ाइल पर आपका मालिकाना हक़ हो जाएगा फिर बिना NFT के कोई भी इसे खरीद या देख नहीं पाएगा ।

NFT की मदद से आप डिजिटल वर्ल्ड मे उसे बेच या खरीद कर कमाई कर सकते है ।

आपके हर Assets जैसे कोई Paintings, Audio,Video,Photos जिसपे अपने एनएफ़टी ले रखा है उसकी आपको एक Certificate दी जाएगी जिसे proof of ownership का नाम दिया जाएगा ।

कब हुई NFT की शुरुआत

दुनिया का पहला NFT अमेरिका के Kevin McCoy और भारतीय मूल के Anil Das ने मई 2014 को बनाया जिसका नाम था Quantum जो एक Video के रूप मे था जिसे McCoy की Wife Janifer ने शूट किया जानिए NFT दुनिया के क था उन्होने इस Video को Namecoin पर Registered किया (Namecoin इक Cryptocurrency है जिसे Bitcoin Software से लिया गया है) और उसे Anil Das को 4 डॉलर मे बेच दिया । इस प्रक्रिया को Das और McCoy ने New York के एक Art संग्रहालय मे प्रस्तुत किया ।

October 2015 मे लंदन मे की पहली NFT Project पेश की गई जिसका नाम था Etheria ,Ethereum जो की एक Cryptocurrency है उसके Developers ने इसे प्रस्तुत किया इसके अंतर्गत तरीबन 457 बेचने और खरीदने योग्य hexagonal tiles पाँच वर्ष तक बिके ही नहीं और वर्ष 2021 मे 24 घंटे मे ही ये अपने वर्तमान वैल्यू से कई गुना अधिक हो गया जहां इसके 1ETH की कीमत महज 0.43 डॉलर थी वो पूरे 1.4 million मे बिका । और धीरे धीरे कई सारे NFTs प्रोजेक्ट लौच किए गए जिसकी वैल्यू कई गुना है ।

NFT का उपयोग कैसे किया जाता है ?

जैसे की उपर्युक्त विवरण मे हमने पढ़ की NFT एक Non Fungible Tokens है इसलिए इसका उपयोग एक Digital Tokan की तरह की जाती है किसी भी Digital File के लिए ।

Digital Art का नाम एनएफ़टी की दुनिया मे नया नहीं है जब किसी आर्ट को Digitaly तैयार की जाती आई जैसे किसी खास तरह के Computer Graphics के द्वारा जो बेहद खास हो तो वो Digital Art कहलाता है ऐसे ही एक Artiest है Murat Pak जिनके द्वारा बनाई गई इक Digital Art जो की बस इक Circle जैसे थी वो NFT प्लैटफ़ार्म पर पूरे 91.8 million Dollar मे बिका ।

NFT Cryptocurrency से बिलल्कुल अलग है, जानते है कैसे ?

दोनों Cryptocurrency के तरह ही Program किया गया है लेकिन फिर भी दोनों भिन्न है वो ऐसे क्यूंकी सभी NFTs की एक Digital Signature होती है उसकी एक unique idintiy होती लेकिन bitocins या कोई अन्य Crypto एक दूसरे से मिलते है जैसे Dollar अन्य डॉलर से मिलता है रुपए अन्य रुपयों से मिलता है । इसलिए NFTs और Cryptocurrency दोनों अलग अलग छीजे है लेकिन वर्तमान मे NFTs का बाजार Bitcoins से कहीं अधिक आएग हो चुका है। बस आपको इसके प्रक्रिया को समझना है ।

कैसे खरीदें एनएफ़टी ?

Internet मे कैसे सारे Online Platform मौजूद है जहां अप Signup करके एनएफ़टी खरीद सकते है जैसे की Super Rare, Open Sea, Rarible और Nifty Gateway जैसे प्लेटफॉर्म से आप NFT टोकन खरीद सकते है ।

Top NFTs जो सबसे महंगे बिके

  1. Beeple’s Ocean Front — $6m
  2. XCopy’s A Coin for the Ferryman — $6.034m
  3. Beeple’s Crossroad — $6.6m
  4. CryptoPunk #7804 — $7.6m
  5. CryptoPunk #3100 — $7.67m
  6. CryptoPunk #7523 — $11.75m
  7. Beeple’s HUMAN ONE — $28.985
  8. Clock — $52.7m
  9. Everydays: the First 5000 Days — $69.3m
  10. Pak’s ‘The Merge’ — $91.8m

ये सभी की तस्वीर जब आप देखने तो बस यही कहेंगे- कमाल है ऐसे के लिए इतना पैसा ! लेकिन ये कमाल हैAdvance Technologies का क्यूंकि वर्तमान मे हम सभी बेहद हाइ टेक्नालजी जानिए NFT दुनिया के क की दुनिया मे प्रवेश कर चुके है जहां कब क्या हो कोई नहीं जनता बस आप मेहनत करते रहिए सफलता आपके पास जरूर आएगी ।

नए साल में NFT बनेगा सेलिब्रिटी और कंपनियों के कमाई का बड़ा जरिया, जानें रेस में कौन

प्रशांत श्रीवास्तव

NFT: साल 2021 में डिजिटल दुनिया में एनएफटी कमाई का नया ट्रेंड लेकर आया है। और अब इस रेस में सेलिब्रिटी से लेकर कॉरपोरेट भी शामिल हो गए हैं। जानिए NFT दुनिया के क ऐसे में 2022 में NFT नए लेवल पर पहुंच सकता है।

NFT Income

  • दुनिया का पहला SMS 91 लाख रुपये में बिका है। जिसे साल 1992 में भेजा गया था।
  • अमिताभ बच्चन, रजनीकांत, सलमान खान,सनी लियोनी, सुनील गावस्कर, युवराज सिंह ने एनएफटी पर एंट्री कर ली है।
  • NFT पर पर पेटिंग, ऑर्ट वर्क, म्यूजिक एलबम, तस्वीर, सेलिब्रिटी के रेयर कलेक्शन डिजिटल रुप में उपलब्ध होते हैं।

नई दिल्ली: डिजिटल वर्ल्ड में क्रिप्टो को चुनौती देने के लिए NFT(Non Fungible Token)नया बज(Buzz) है। गूगल ट्रेंड की रिपोर्ट के अनुसार 2021 में लोगों ने क्रिप्टो से ज्यादा NFT को सर्च किया है। लोकप्रियता का आलम यह है सेलिब्रिटी से लेकर कंपनियों ने इस पर दांव लगाना शुरू कर दिया है। चाहे हॉलीवुड में पेरिस हिल्टन, लिंडसे लोहान हो या फिर बॉलीवुड में अमिताभ बच्चन, रजनीकांत, सलमान खान और सनी लियोनी, क्रिकेट में सुनील गावस्कर, युवराज सिंह ने एनएफटी पर एंट्री कर ली है। और अब इस रेस में कॉरपोरेट वर्ल्ड भी उतर गया है।

दुनिया का पहला SMS 91 लाख रुपये में बिका

हाल ही में दुनिया का पहला SMS जिसे 1992 में भेजा गया था। उसे वोडाफोन ने उस एसएमएस को एनएफटी के रूप में 1.07 लाख यूरो यानी करीब 91 लाख 15 हजार रुपये में नीलाम किया गया। हालांकि दुनिया के पहले एसएमएस के NFT को इतनी मोटी रकम देकर किसने खरीदा, इसका खुलासा नहीं हुआ है। मैसेज “Merry Christmas” को दिसंबर 1992 को वोडाफोन नेटवर्क के जरिये भेजा गया था।

इसी तरह मार्च में ट्विटर के सीईओ जैक डोर्सी ने अपने सबसे पहले ट्वीट को एनएफटी के रूप में नीलाम किया था। उनका वह ट्वीट 29 लाख डॉलर (21.93 करोड़ रुपये) में नीलाम हुआ। इसी तरह नवंबर महीने में अमिताभ बच्चन ने एनएफटी की नीलामी शुरू की, जिसमें उन्हें अपने कलेक्शन से करीब 7 करोड़ रुपये मिले।

कैसे काम करता है NFT

NFT एक डिजिटल दुनिया है। जो ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी पर काम करता है। इसके तहत ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी डिजिटल असेट्स को एक यूनीक आईडी देता है। इसके जरिए किसी भी असली दुनिया की चीज को डिजिटल वर्जन में परिवर्तित कर रखा जाता है। जिसे बाद में बेचा भी जा सकता है और उससे मोटी कमाई हो सकती है। एनएफटी पर प्लेटफॉर्म पर कोई भी अपना रजिस्ट्रेशन कराकर एसेट की बोली लगा सकता है। और सबसे अधिक बोली के आधार पर उसे खरीद सकता है। साथ ही अपना खुद का एनएफटी प्लेटफॉर्म भी शुरू कर सकता है।

कैसे होती है मोटी कमाई

NFT का चलन दुनिया में पिछले 4-5 साल में तेजी से बढ़ा है। आम भाषा में एनएफटी एक डिजिटल कलेक्शन प्लेटफॉर्म है। जहां पर पेटिंग, ऑर्ट वर्क, म्यूजिक एलबम, तस्वीर, सेलिब्रिटी के रेयर कलेक्शन डिजिटल रुप में उपलब्ध होते हैं। ये सेलिब्रिटी कलेक्शन की चाहत रखने वालों को अपने एसेट डिजिटल फॉर्म में बेचकर अच्छी कमाई कर सकते हैं। इसकी लोकप्रियता का आलम यह है कि क्वॉइन टेलीग्राफ की रिपोर्ट के अनुसार 2021 में NFT की बिक्री 17 अरब डॉलर पार कर सकती है।

2022 में रहेगा हॉट

जिस तरह से एनएफटी ने 2021 में तेजी दिखाई है। उसे देखते हुए, 2022 में इसके हॉट रहने की उम्मीद है। टेक महिंद्रा ने भी एनएफटी लांच करने का ऐलान जानिए NFT दुनिया के क कर दिया है। इस तरह भारत में एनएफटी लांच करने वाली एमजी मोटर्स पहली कार कंपनी बन गई है। इसे देखते हुए पूरी संभावना है कि भारत के कई सेलिब्रिटी और कंपनियां इस नए बाजार में 2022 में दांव लगाएंगी।

World First SMS: करोड़ों में बिकने जा रहा दुनिया का पहला SMS, जानिए क्या है इस मैसेज में

वोडाफोन के एक कर्मचारी ने सबसे पहला मैसेज साल 1992 में भेजा था. उसने अपने सहकर्मी को यह मैसेज भेजा था. अब इस SMS की निलामी हो रही है. आइए जानते हैं क्या लिखा है इस मैसेज में?

World First SMS: करोड़ों में बिकने जा रहा दुनिया का पहला SMS, जानिए क्या है इस मैसेज में

21 दिसंबर : दुनिया के पहले टेक्सट मैसेज (World First SMS) की अब नीलामी होने जारी है. क्या आप जानते हैं कि दुनिया का पहला एसएमएस (SMS) "Merry Christmas" था? जी हां 30 साल पहले वोडाफोन (Vodafone) नेटवर्क के माध्यम से यह एसएमएस भेजा गया था. वोडाफोन ने ट्वीट के जरिए इसकी जानकारी दी है. 2021 की सबसे खराब कंपनी बनी Facebook/Meta, याहू फाइनेंस ऑडियंस सर्वे ने जारी की लिस्ट

वोडाफोन के एक कर्मचारी ने सबसे पहला मैसेज साल 1992 में भेजा था. उसने अपने सहकर्मी को यह मैसेज भेजा था, जिसमें लिखा था क्रिसमस की शुभकामनाएं (Merry Christmas). अब इस मैसेज की नीलामी £170,000 (करीब 1 करोड़ 71 लाख रुपये) में हो सकती है.

FOR SALE: World’s first text message 💬, 1992 #NFT

Used once, over 14 characters, festive theme 🎄

To be auctioned 21/12 with proceeds going to @UNHCRUK 👇

— Vodafone UK (@VodafoneUK) December 14, 2021

अब कंपनी से इस SMS को एक NFT में तब्दील कर रही है. वोडाफोन ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से पोस्ट करके बताया है कि यह कंपनी का पहला NFT (Non-Fungible Token) ,बनने वाला है.

Did you know the world's #1stSMS was a simple "Merry Christmas"?

Sent 30 years ago via the #Vodafone network, it's been transformed into a #NFT by @vodafone_de, so it can be auctioned to raise funds for our partners at #UNHCR, helping to build a better future for @refugees. pic.twitter.com/NDis7WEHxC

— Vodafone Foundation (@VodafoneFdn) December 14, 2021

वोडाफोन कंपनी की तरफ से कहा गया है कि नीलामी से जो भी कमाई होगी उसको यूएनएचसीआर-यूएन रिफ्यूजी एजेंसी को दे दिया जाएगा.

आप भी क्रिएट कर सकते हैं अपनी NFT और कर सकते हैं मोटी कमाई, जानिए कैसे

वर्ष 2021 एनएफटी के साल के रूप में भी जाना जाएगा. बीते साल बॉलीवुड और हॉलीवुड से लेकर खेल जगत की अनेक हस्तियों ने अपनी नॉन फंजिबल टोकन लांच की और करोड़ों रुपये कमाए. पिछले साल 41 अरब डॉलर यानी करीब तीन लाख करोड़ रुपये के एनएफटी की खरीद-बिक्री हुई. लेकिन एनएफटी बड़ी-बड़ी सेलिब्रिटी ही नहीं, आप भी क्रिएट कर सकते हैं और उन्हें बेच सकते हैं. इस लेख में हम आपको एनएफटी क्रिएट करने का तरीका (How to create NFT) बताएंगे.

आज कई प्लेटफॉर्म हैं, जहां एनएफटी की खरीद-बिक्री होती है. ओपनसी (OpenSea.io) को दुनिया का सबसे बड़ा एनएफटी प्लेटफॉर्म माना जाता है. भारत में बेयॉन्डलाइफ.क्लब, वजीरएक्स, बॉलीकॉइन, रेरियो, ऑलवेज फर्स्ट जैसे प्लेटफॉर्म हैं. एनएफटी क्रिएट करने को मिंटिंग भी कहा जाता है. विभिन्‍न प्लेटफॉर्म पर इसके अलग तरीके हो सकते हैं, लेकिन कुछ बातें जानिए NFT दुनिया के क हर प्लेटफॉर्म में एक जैसी होंगी.

सबसे पहले तो प्लेटफॉर्म पर आपको ऑनलाइन वॉलेट (Online Wallet) खोलना पड़ेगा, जहां आप एनएफटी और क्रिप्टोकरेंसी (NFT & Cryptocurrency) रख सकते हैं. एनएफटी की खरीद-बिक्री इसी करेंसी में होती है. प्लेटफॉर्म आपको वॉलेट का एक्सेस कोड यानी पासवर्ड देगा, जिसके बिना वॉलेट खोला नहीं जा सकता है. फिर आपको विकल्प मिलता है कि आप एनएफटी सिर्फ खरीदना-बेचना चाहते हैं या क्रिएट करना चाहते हैं. 'क्रिएटर' विकल्प चुनने के बाद आपको एक फॉर्म पर कुछ जरूरी जानकारियां देनी पड़ती हैं. प्लेटफॉर्म आपको एप्रूवल देगा, जिसके बाद आप एनएफटी क्रिएट (NFT Creation) कर सकते हैं. जिस ऐसेट की एनएफटी क्रिएट करना चाहते हैं उसकी डिजिटल फाइल होनी चाहिए. पीएनजी, जेपीजी, वीडियो या ऑडियो (जैसे MP4) फॉर्मेट में फाइल अपलोड कर सकते हैं.

अगर आप अपनी कविता को एनएफटी में कनवर्ट करना चाहते हैं तो जिस तरह अमिताभ बच्चन ने मधुशाला को गाकर उसे एनएफटी के रूप में बेचा, वैसा कर सकते हैं. आपको ध्यान रखना पड़ेगा कि फाइल साइज अपलोड की एक लिमिट होती है. यह लिमिट विभिन्‍न प्लेटफॉर्म पर अलग है. फाइल अपलोड करने के बाद आप उसे एक नाम दे दें और उसके बारे में जरूरी जानकारी लिखें. यह जानकारी इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि उसे पढ़कर ही कोई खरीदार जानिए NFT दुनिया के क तय करेगा कि एनएफटी खरीदना है या नहीं. एनएफटी की कीमत और रॉयल्टी (NFT Price and Royalty) भी तय करनी पड़ेगी. हर प्लेटफॉर्म पर रॉयल्टी की भी न्यूनतम और अधिकतम सीमा होती है. उसके बाद आप एनएफटी को बिक्री के लिए लिस्ट कर सकते हैं. एनएफटी के लिंक को सोशल मीडिया (Social Media) पर भी शेयर कर सकते हैं. प्लेटफॉर्म आपसे सर्विस फीस लेगा जिसे गैस फीस भी कहा जाता है.

एनएफटी के दो हिस्से होते हैं- स्मार्ट कांट्रैक्ट और आर्टवर्क या स्मार्ट ऐसेट. ब्लॉकचेन पर स्मार्ट कांट्रैक्ट होता है. ज्यादातर एनएफटी में आर्टवर्क (एसेट) ब्लॉकचेन पर नहीं होता. दरअसल, उसे ब्लॉकचेन (Blockchain) जानिए NFT दुनिया के क पर रखने के लिए काफी डाटा की जरूरत पड़ेगी और वह बहुत खर्चीला होगा. इसलिए स्मार्ट कांट्रैक्ट में उस आर्टवर्क का लिंक (URL) होता है. हालांकि ब्लॉकचेन पर एनएफटी अपलोड करना खर्चीला हो सकता है, लेकिन यह यूआरएल के विकल्प की तुलना में ज्यादा सुरक्षित होता है. उसे हैक करना अपेक्षाकृत मुश्किल होता है. हर एनएफटी का अलग आइडेंटिफिकेशन कोड होता है, इसलिए कोई भी दो एनएफटी एक समान नहीं होती हैं.

आपने किसी मशहूर पेंटिंग की एनएफटी खरीदी तो जरूरी नहीं कि उसकी आपके घर डिलीवरी भी होगी. होता सिर्फ यह है कि एनएफटी की ओनरशिप का सर्टिफिकेट बदल जाता है और वह ब्लॉकचेन पर दर्ज होता है. वह सर्टिफिकेट आपके डिजिटल वॉलेट में रहता है. ब्लॉकचेन एक तरह का सार्वजनिक बही-खाता होता है, जिसमें ट्रांजैक्शन के रिकॉर्ड दर्ज होते हैं. अभी ज्यादातर एनएफटी एथेरियम ब्लॉकचेन पर बनती हैं.

एनएफटी के स्मार्ट कॉन्ट्रैक्ट को ईआरसी 721 स्टैंडर्ड कहते हैं. इसमें ओनरशिप डिटेल्स, सिक्योरिटी और एनएफटी से संबंधित मेटा डाटा होता है. मेटा डाटा में क्रिएट करने वाला एनएफटी के बारे में जरूरी जानकारी देता है, जिसे देखकर ही कोई उसे खरीदता है. विदेशों में प्राइवेट इक्विटी खरीदने और रियल स्टेट में भी एनएफटी (NFT in Equity and Real Estate) का इस्तेमाल होने लगा है. कॉन्ट्रैक्ट का नया स्टैंडर्ड ईआरसी 1155 है. इसमें एक ही कॉन्ट्रैक्ट में आर्टवर्क, रियल स्टेट जैसी कई तरह की एनएफटी रखी जा सकती हैं. इससे ट्रांजैक्शन और स्टोरेज का खर्च कम हो जाता है.

किसी एसेट को डिजिटल रूप देना या उसके लिए यूनिक आइडेंटिफिकेशन का इस्तेमाल कोई नई बात नहीं है. नई बात ब्लॉकचेन पर स्मार्ट कांट्रैक्ट है. किसी भी ऑडियो, वीडियो या आर्ट की जितनी चाहे डिजिटल कॉपी बनाई जा सकती है, लेकिन तब उसकी वैल्यू नहीं रह जाएगी. वैल्यू बनी रहे, इसलिए डिजिटल एसेट की एक या सीमित एनएफटी ही बनाई जाती है. दूसरे शब्दों में हम कह सकते हैं कि एनएफटी से एक तरह की डिजिटल किल्लत पैदा होती है. कोई चीज जब सीमित मात्रा में उपलब्ध हो तो उसे खरीदने के लिए बोली अधिक लगती है. अभी ज्यादातर एनएफटी ईथर क्रिप्टोकरेंसी से ही खरीदी जा सकती हैं यानी आपके डिजिटल वॉलेट में ईथर होना जरूरी है, तभी आप किसी एक्सचेंज पर एनएफटी खरीद सकते हैं. आप ऑनलाइन पैसे देकर या क्रेडिट कार्ड से क्रिप्टोकरेंसी खरीद सकते हैं.

शुरुआत में ज्यादातर एनएफटी उन्हीं चीजों की बनाई गईं, जो किसी दूसरे रूप में पहले से मौजूद थीं. उदाहरण के लिए एनबीए गेम के वीडियो क्लिप. बीपल (असली नाम माइक विंकलमैन) का जो आर्टवर्क 6.9 करोड़ डॉलर में बिका था, वह भी उनकी 5,000 ड्रॉइंग्स का कोलाज था. इन ड्राइंग्स को आप अलग-अलग या कोलाज के रूप में इंटरनेट पर भी देख सकते हैं. तो इसे करोड़ों रुपये देकर क्यों खरीदा जाए? इसका जवाब यही है कि अगर आप किसी आर्टवर्क या किसी अन्य चीज की एनएफटी खरीदते हैं तो वह आपकी संपत्ति बन जाती है. इंटरनेट पर अनेक कॉपी उपलब्ध जानिए NFT दुनिया के क हो सकती हैं. एनएफटी खरीदने का मतलब है कि आपके पास एक फाइल है, जिसे आप ओरिजिनल कह सकते हैं. वरना जो भी पेंटिंग आपको पसंद है उसे इंटरनेट से डाउनलोड कीजिए और फ्रेम करवाकर ड्राइंग रूम में टांग लीजिए.

(डिस्क्लेमर: ये लेखक के निजी विचार हैं. लेख में दी गई किसी भी जानकारी की सत्यता/सटीकता के प्रति लेखक स्वयं जवाबदेह है. इसके लिए जनता से रिश्ता जानिए NFT दुनिया के क किसी भी तरह से उत्तरदायी नहीं है)

लेखक का 30 वर्षों का पत्रकारिता का अनुभव है. दैनिक भास्कर, अमर उजाला, दैनिक जागरण जैसे संस्थानों से जुड़े रहे हैं. बिजनेस और राजनीतिक विषयों पर लिखते हैं.

रेटिंग: 4.84
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 416
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *